गया: गांव तो छोड़िए गया जैसे शहर में भी लोग बुनियादी सुविधाओं से हैं वंचित; मगध कॉलोनी में रोड ,नाली,पानी और बिजली से जुड़ी समस्याओं को लेकर स्थानीय निवासी व सामाजिक कार्यकर्ता मुकेश कुमार वर्मा ने जिलाधिकारी, गया को दिया आवेदन, पूर्व में निगमायुक्त से भी लगा चुके हैं गुहार, नहीं हुई अभी तक कोई कार्यवाई





गया: वार्ड नं 29 के मगध कॉलोनी में लोग शहर में होते हुए भी बुनियादी सुविधाओं से अभी तक वंचित हैं।शिकरिया मोड़ से अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज व अस्पताल जाने के रास्ते के बीच में पड़ने वाला ये इलाका अभी भी सड़क,नाली और सप्लाई पानी जैसे सुविधाओं के लिए तरस रहा है।यहां गर्मी के दिनों में लोगों को तो दिक्कत होती ही है वरसात के दिनों में हालात अति भयावह हो जाती है।

यहां के निवासी बताते हैं कि कभी-कभी कीचड़ में गाड़ी फंस जाता है तो उसे निकालना मुश्किल हो जाता है।गंदा पानी घर में प्रवेश कर जाता है जिससे कई तरह के संक्रमण का खतरा बना रहता है।

रोड नंबर 11 के निवासी बैंकर्स व सामाजिक कार्यकर्ता मुकेश कुमार वर्मा ने समस्या से अवगत कराते हुए इसे दूर करने के लिए वर्ष 2020 में गया नगर निगम के निगमायुक्त श्री सावन कुमार को आवेदन दिया,पर अभी तक कोई कार्यवाई नहीं हुई।कई बार वार्ड पार्षद किशोर पासवान से भी निवेदन किया गया लेकिन उनके द्वारा भी कोई पहल नहीं की गई।

उनसे जब हमारी बात हुई तो उन्होंने बताया कि ये रोड और नाली पास हो चुका है बस फंडिंग की दिक्कत है, होते ही समस्या को दूर करवा देंगे।

 

वर्ष 2017 में सांसद कोटे से बनाये गये रोड न.10 की सड़क की भी स्थिति काफी खराब हो चुकी है जो गुणवत्तापूर्ण कार्य पर सवालिया निशान लगाता है।इस सड़क का शिलान्यास उस समय के सांसद हरि मांझी जी के द्वारा हुआ था।

अब श्री मुकेश कुमार वर्मा ने गया के जिला पदाधिकारी श्री अभिषेक सिंह से सड़क,नाली,पानी,बीजली आदि से जुुड़े समस्याओं को दूर करवाने हेतु गुहार लगाई है साथ ही शहर में प्रतिदिन लग रहे जाम की समस्या से भी अवगत कराते हुए कुछ उपाय बताए हैं।अब देखना ये है कि गया शहर में स्थित मगध कॉलोनी जैसे रिहायसी इलाके के लोगों को कब इंसाफ मिलता है।

Share:

One thought on “गया: गांव तो छोड़िए गया जैसे शहर में भी लोग बुनियादी सुविधाओं से हैं वंचित; मगध कॉलोनी में रोड ,नाली,पानी और बिजली से जुड़ी समस्याओं को लेकर स्थानीय निवासी व सामाजिक कार्यकर्ता मुकेश कुमार वर्मा ने जिलाधिकारी, गया को दिया आवेदन, पूर्व में निगमायुक्त से भी लगा चुके हैं गुहार, नहीं हुई अभी तक कोई कार्यवाई”

  1. समस्या गंभीर है और मुकेश जी को धन्यवाद जो इस गंभीर मुद्दे को उठाया है।हम सब मुहल्ले वाले आपके साथ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *