गया: महंगाई के खिलाफ महागठबंधन के प्रतिरोध मार्च में उमड़ा जनसैलाब

गया: पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुशार आज दिनांक 07 अगस्त 2022 को महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, खाद्य सामग्रियों पर जी एस टी, सुखाड़, बाढ़ आदि मुद्दो पर महागठबंधन ( कांग्रेस + राजद + सी पी आई + सी पी आई एम + माले ) का विशाल प्रतिरोध मार्च स्थानीय गया गांधी मैदान से निकाला जो राय काशीनाथ, व्यवहार न्यायालय, समाहरणालय, प्रधान डाकघर, जी बी रोड होते हुए चौक स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी प्रतिमा के समक्ष आम सभा में तब्दील हो गया।
प्रदर्शन में कांग्रेस, राजद, सी पी आई, सी पी आई एम, माले के नेता, कार्यकर्ता, समर्थक एवम् आमजन हजारों, हजार की संख्या शामिल होकर महंगाई, बेरोजगारी आदि के खिलाफ हल्ला बोले।
अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य सह क्षेत्रीय प्रवक्ता बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी प्रो विजय कुमार मिठू ने कहा कि महागठबंधन के प्रतिरोध मार्च का नेतृत्व राजद के वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री बिहार सरकार, बेलागंज विधायक डा सुरेंद्र प्रसाद यादव, कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री बिहार सरकार अवधेश कुमार सिंह,बोधगया विधायक कुमार सर्वजीत, गुरूआ विधायक विनय कुमार यादव, शेरघाटी विधायिका मंजू अग्रवाल, विधान पार्षद रिंकू यादव, कांग्रेस जिला अध्यक्ष चंद्रिका प्रसाद यादव, विजय कुमार मिठू, राजद जिला अध्यक्ष मो नेजाम, महानगर अध्यक्ष जितेंद्र यादव, युवा राजद प्रदेश महासचिव विश्वनाथ यादव, माले जिला सचिव निरंजन कुमार, रीता वर्णवाल, सी पी आई जिला सचिव सीताराम शर्मा, याहिया खान, सी पी आई एम के राम खेलावन दास, जयवर्धन कुमार, आदि कर रहे थे। प्रतिशोध मार्च में कांग्रेस के मो उमैर खा उर्फ टीका खा, डा शशि शेखर सिंह, प्रो अमरेंद्र कुमार सिंह उर्फ मंटू, विद्या शर्मा, युगल किशोर सिंह, बाबूलाल प्रसाद सिंह, राम प्रमोद सिंह, राम उदय प्रसाद, उदय शंकर पालित, बाल्मिकी प्रसाद, जगरूप यादव, टिंकू गिरी, शशिकांत सिन्हा, श्रवण पासवान, सुनील कुमार राम, शिव कुमार चौरसिया, धर्मेंद्र कुमार निराला, सादुल्लाह फारुकी, अभिषेक श्रीवास्तव, अमित कुमार उर्फ रिंकू सिंह, रंजीत सिंह, ब्रजेश राय, मदीना खातून आदि शामिल थे।
नेताओ ने आमसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज महंगाई, बेरोजगारी, खाद्य सामग्रियों पर जी एस टी, भ्रष्टाचार, सुखाड़, बाढ़ आदि मुद्दो पर हल्लाबोल में उमड़ा जनसैलाब से प्रमाणित होता है की आमजन मोदी, नीतीश सरकार से त्राहि, त्राहि कर रहें हैं, बेरोजगार युवा आत्महत्या को मजबूर है, मध्य, दक्षिण बिहार में सुखाड़ एवम् उत्तर बिहार में बाढ़ से किसान तबाह है, नीतीश सरकार बिजली बिल माफ करने की जगह डीजल अनुदान का ढोंग रच रही है।
नेताओ ने कहा की जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पूर्व केंद्रीय मंत्री आर सी पी सिंह की अकुक संपति नीतीश सरकार के जीरो टॉलरेंस की पोल खोलती हैं तथा आरसीपी टैक्स की बात को प्रमाणित करती है।
आज महागठबंधन एकजुट होकर मोदी, नीतीश सरकार को उखाड़ फेंकने का जो शंखनाद किया है, तथा इस आंदोलन में जिस प्रकार से आमजन का साथ मिला है, उससे निश्चित है की यह आंदोलन आगे भी तब तक जारी रहेगी, जबतक आमजन को महंगाई, से निजात नहीं मिल जाता है।

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *